जेनेवा. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के कार्यकारी निदेशक माइकल जे रेयान ने मंगलवार को कहा कि भारत में कोरोनो वायरस (Coronavirus) की महामारी से निपटने की जबरदस्त क्षमता है, क्योंकि इसके पास दो महामारी स्मॉल पॉक्स और पोलियो को खत्म करने का अनुभव है.

रयान ने COVID-19 महामारी पर एक प्रेस वार्ता के दौरान कहा, ‘जहां कोरोना के मामलों में बढ़त देखी जा रही है, वहां लैब्स की जरूरत है. भारत एक बहुत अधिक आबादी वाला देश है और इस वायरस का भविष्य बहुत अधिक और घनी आबादी वाले देशों में हो सकता है. भारत ने दो महामारी स्मॉल चिकन पॉक्स और पोलियो के खात्मे में दुनिया का नेतृत्व किया इसलिए भारत में एक जबरदस्त क्षमता है.’

उन्होंने कहा, ‘कोई आसान जवाब नहीं है. यह महत्वपूर्ण है कि भारत जैसे देश दुनिया को रास्ता दिखाते हैं जैसा उन्होंने पहले किया है.’ विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के अनुसार, दुनिया भर में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या 3,30,000 को पार कर गई है, जबकि मौतों की संख्या 14,000 से अधिक हो गई है.

भारत में अब तक 471 मामले

बता दें कोरोना वायरस के अब तक 471 मामले सामने आए हैं और 9 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं 30 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों ने कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते अपने-अपने यहां पूर्ण लॉकडाउन के आदेश दिए हैं और छह अन्य राज्यों ने भी अपने कुछ क्षेत्रों में इसी तरह के प्रतिबंधों की घोषणा की है.

केंद्र सरकार ने राज्यों से यह भी कहा है कि यदि जरूरी हो तो अतिरिक्त प्रतिबंध भी लागू किए जाएं. पंजाब (Punjab) और महाराष्ट्र (Maharashtra) ने अपने यहां कर्फ्यू लगाने की घोषणा की है.

पीएम ने भी की लोगों से अपील
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने राज्य सरकारों से अपील की है कि वे कोरोना वायरस के मद्देनजर लॉकडाउन का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराएं क्योंकि कई लोग कदमों को गंभीरता से नहीं ले रहे.